Bloom’s Taxonomy Questions for CTET | CDP Question for CTET 2022

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

CTET 2021 (Bloom’s Taxonomy Questions for CTET): सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट परीक्षा CTET 2021 की शुरुआत 16 दिसंबर से हुई है, सीबीएसई द्वारा CTET परीक्षा 13 जनवरी 2022 तक ऑनलाइन सीबीटी मोड में ली जानी है देश में शिक्षक बनने की इच्छा रखने वाले लाखों अभ्यर्थी इस वर्ष की सीटेट परीक्षा में शामिल हो रहे हैं आपको बता दें कि CTET कई शिफ्टों की परीक्षाएं आयोजित की जा चुकी है जबकि कई और शिफ्ट में 13 जनवरी तक परीक्षा आयोजित होना अभी बाकी है, यदि आप भी सीटेट परीक्षा देने जाने वाले हैं तो यहां दी गयी जानकारी बेहद महत्वपूर्ण है इसे ध्यानपूर्वक पढ़ें.

आज सीटेट पेपर 1 तथा पेपर 2 में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों के लिए हम “बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र” (CDP) के अंतर्गत पूछे जाने वाले “ब्लूम के सिद्धांत” पर आधारित प्रश्न पोस्ट कर रहे हैं जो कि हाल ही में आयोजित सीटेट परीक्षा की हर शिफ्ट में ‘ब्लूम के सिद्धांत’ (Bloom’s Taxonomy) टॉपिक से सवाल पूछे जा रहे हैं यदि आपकी परीक्षा आने वाली शिफ्ट में है तो (Bloom’s Taxonomy Questions for CTET) इन सवालों को जरूर पढ़ लो.

विशेष जानकारी के लिए आपको बता दें कि केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) का आयोजन सीबीएसई द्वारा वर्ष में दो बार किया जाता है जो अभ्यर्थी कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक बनना चाहते हैं उनके लिए पेपर 1 है जबकि कक्षा 6 से 8 तक के शिक्षक बनने के लिए पेपर 2 पास करना अत्यंत आवश्यक है जो सीटेट परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार होंगे वो केंद्र सरकार के अधीन विभिन्न स्कूलों तथा शिक्षण संस्थाओं में शिक्षक के पद पर आवेदन के पात्र हो जायेंगे।

ब्लूम टैक्सनॉमी (Bloom’s Taxonomy) क्या है ?

बेंजामिन एस. ब्लूम और उनके सहयोगी द्वारा 1956 में शैक्षिक उद्देश्यों का सबसे आधुनिक एवं वैज्ञानिक ढंग से वर्गीकरण किया गया, ब्लूम ने इस वर्गीकरण को “टैक्सनॉमी ऑफ एजुकेशनल ऑब्जेक्टिव्स” का नाम दिया।

ब्लूम टैक्सनॉमी के अंतर्गत समस्त शैक्षिक उद्देश्यों का मानकीकरण कर दिया गया है, ब्लूम के शैक्षिक उद्देश्यों का वर्गीकरण (Bloom taxonomy) को मानव व्यक्तित्व के तीन पक्षों के आधार पर विभाजित किया गया है जो ब्लूम तथा उनके साथियों द्वारा दिया गया शैक्षिक उपदेश के लिए एक त्रिआयामी विभाजन शिक्षा के क्षेत्र में आज भी बहुतायत से प्रयोग में लाया जाता है ब्लूम की पाठ योजना के उद्देश्यों पर आधारित है।

बालक के व्यक्तित्व का विकास तीन सीखने के क्षेत्रों में होता है –
1.ज्ञानात्मक पक्ष (Cognitive Domain)
2.भावात्मक पक्ष (Affective Domain)
3.मनोक्रियामत पक्ष (Psychomotor Domain)

ब्लूम टैक्सनॉमी पर आधारित इन सवालों को एक बार जरूर पढ़ें — Question-Based on Bloom’s Taxonomy for CTET 2021
प्रश्न – यदि एक विद्यार्थी अपने समकक्ष व्यक्तियों के समूह के प्रति आक्रामक व्यवहार करता है और विद्यालय के मानदंडों का पालन नहीं करता है तो इस विद्यार्थी को _____ में सहायता की आवश्यकता है ?

1. भावात्मक क्षेत्र
2. मनो गत्यात्मक क्षेत्र
3. संज्ञानात्मक क्षेत्र
4. उच्च स्तरीय चिंतन कौशल ज्ञान
Ans- 1

प्रश्न – व्यवहार का करना पक्ष में आता है ।
सीखने के मनोवैज्ञानिक क्षेत्र
सीखने की गतिक क्षेत्र
सीखने की भावात्मक क्षेत्र
सीखने के संज्ञानात्मक क्षेत्र
Ans- 2

प्रश्न – निम्न में कौन-सी संज्ञानात्मक क्रिया दी गई सूचना के विश्लेषण के लिए प्रयोग में लायी जाती है ?
वर्णन करना
अंतर करना
वर्गीकृत करना
पहचान करना
Ans – 3

प्रश्न – ब्लूम की टैक्सनॉमी _____ की पदानुक्रम किस प्रकार की व्यवस्था है?
पठन कौशल
उपलब्धि लक्ष्यों
पाठ्यचर्या संबंधी घोषणा
संज्ञानात्मक उद्देश्यो
Ans- 4

प्रश्न – एक ग्रेड अंको से कैसे अलग है यह प्रश्न निम्न में से किस प्रकार के प्रश्नों से संबंध रखता है बताईये ?
अपसारी
मुक्तअंत
विश्लेषणात्मक
समस्या समाधान
Ans- 3

प्रश्न – किस उद्देश्य इकाई के पूर्ण होने पर शिक्षार्थी कहानी की मुख्य घटनाओं को व्याकरण शब्द रूप में संक्षिप्त कर सकेंगे यह है किस ज्ञानात्मक उद्देश्य से संबंधित है ?
ज्ञान का प्रयोग
मूल्यांकन
संश्लेषण
समझ
Ans- 4

प्रश्न – निम्न में से कौन सा प्रश्न अपने विशिष्ट क्षेत्र से सही तरह से मिला हुआ है ?
पिछली रात दिखाए गए क्रिकेट मैच में निर्णायक क्षण कौन सा था: सृजनशील की श्रेणी
निर्धारित कीजिए कि निम्नलिखित मामलों में कौन सा मापक आपको उत्तम परिणामों को पाने में सर्वाधिक प्रबंध कर सकता है:विश्लेषण की श्रेणी
आप अपने विद्यार्थियों को उनकी गणित की उपलब्धि के आधार पर वर्गीकृत कर सकते हैं :मूल्यांकन की श्रेणी
जड़ी बूटियों के प्रयोग द्वारा चिकन पकाने हेतु कोई नई पाक विधि लिखिए:अनुप्रयोग की श्रेणी
Ans- 2

प्रश्न – निम्न में से कौन-सा ब्लूम के पूर्ण संशोधित संशोधित वर्गीकरण _____ मूल्यांकन के क्षेत्र को प्रदर्शित करता है ?
वस्तुओं की श्रेणीकरण हेतु नूतन पद्धति का निर्माण करना
आंकड़ों का प्रयोग करते हुए ग्राम पतवा चार्ट का निर्माण करना
एक समाधान की तार्किक सुसंगतता का परीक्षण करना
प्रदत आंकड़ों की प्रासंगिकता का मूल्यांकन करना
Ans- 2

प्रश्न – एक उद्देश्यों की कथन के लिए प्रयुक्त व्यवहार गत पद जैसी परिवर्तन उद्देश्यों की कथन के लिए प्रयुक्त व्यवहार गत पद जैसे – परिवर्तन करना, गणना करना, खोजना निर्देशित करना, अनुचित करना संशोधित करना, संक्रिया करना, संबंध बताना, तैयार करना, दिखाना हल करना, भविष्य कथन करना, इत्यादि वर्ग से संबंधित है __
संश्लेषण
मूल्यांकन
अनुप्रयोग
विश्लेषण
Ans- 1

प्रश्न – एक शिक्षक का कौन सा गुण विद्यार्थियों द्वारा पसंद किया जाता है ?
उसकी पहनने का तरीका
उसकी छात्रवृत्ति
उसके बात करने का तरीका
उसका पूरा व्यक्तित्व
Ans- 4

प्रश्न – बैन्ड्यूरा के अनुसार सामाजिक अवलोकन पर आधारित अधिगम सिद्धांत में निम्न में से कौन सी प्रक्रिया होती है?
स्वचिंतन
सार को दोहराना
प्रतिधारण
पुनरावृत्ति
Ans – 3

प्रश्न – प्रेक्षणात्मक अधिगम संप्रत्यय किसके द्वारा दिया गया था
कोहलर
बेण्डूरा
टोलमैन
थॉर्नडाइक
Ans- 2

प्रश्न – प्रेक्षणीय अधिगम का सिद्धांत प्रस्तुत किया है –
बंडूरा
इवान पावलव
बीएफ स्किनर
आरोन बेक
Ans- 1

प्रश्न – निम्नलिखित में अल्बर्ट बंडूरा द्वारा प्रतिपादन अधिगम का प्रकार कहलाता है ?
सक्रिय अधिगम
प्रेक्षणात्मक अधिगम
अनुभवजन्य अधिगम
अंतर्दृष्टि अधिगम
Ans- 2

प्रश्न – निम्न में से कौन-सी मुख्य प्रक्रिया बंडूरा के सामाजिक संज्ञानात्मक सिद्धांत में सम्मिलित नहीं है ?
अभि प्रेरणात्मक
धारणात्मक
अनुभवात्मक
अवधानात्मक
Ans- 3