CTET UPTET हिन्दी भाषा प्रैक्टिस सेट-3 | CTET UPTET Practice SetNotes-allindiafreetest.com

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

UPTET CTET हिन्दी भाषा प्रैक्टिस सेट-3 : परीक्षा में जाने से पहले विगत वर्ष के इन प्रश्नो को हल करें।

ये सभी प्रश्न पिछले वर्ष की CTET UPTET PRACTICE SET Previous Year परीक्षा में आये हुए हैं। CTET परीक्षा 16 दिसंबर से शुरू हुई है और 13 जनवरी 2022 तक चलेगी। CTET परीक्षा की तैयारी अभ्यर्थी कई महीनों से कर रहें हैं ताकि परीक्षा में अच्छे अंक ला पाएं। CTET और UPTET परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए जरूरी है Previous Year Question Paper Solve करें इसके लिए अभ्यर्थी लगातार google पर और टेलीग्राम पर search कर रहें हैं प्रीवियस के प्रश्न तो हमने ये काम आसान कर दिया है।

CTET UPTET LANGUAGE PRACTICE SET

CTET परीक्षा इस वर्ष ऑनलाइन माध्यम से कराई जा रही है। आज हम विगत वर्ष की परीक्षा में आये 30 महत्वपूर्ण प्रश्नो को कराएंगे जिससे आपकी तैयारी और मजबूत बना सकते हैं।

 

UPTET परीक्षा की तारीख बोर्ड ने तय कर दिया है, UPTET परीक्षा 28 नवंबर को हुई थी जिसमें PAPER OUT होने के कारण परीक्षा को निरस्त किया गया अब UPTET परीक्षा 23 जनवरी 2022 को होगी इसके लिए नोटिफिकेशन भी आ चूका है। अब जरूरी है की अभ्यर्थी अपनी तैयारी को और मजबूत बनाए इसलिए अब आपको YOUTUBE चैनल CHANDRA INSTITUTE NOTES पर लगातार प्रैक्टिस सेट और सिलेबस कराया जा रहा है इसे SOLVE करें।

 

महत्वपूर्ण लिंक ( Important Link ) जरूर देखें 
Official Telegram  JOIN NOW
Official Youtube Subscribe Now
Official Website  Click Here
UP Btc Result Out Click Here

CTET UPTET LANGUAGE PRACTICE SET

CTET/UPTET Hindi Language Practice Set 56
प्रश्न 1: भाषा शिक्षण का ज्ञानात्मक उद्देश्य है
A) छात्रों में भाषा के प्रति सम्मान जागृत करना।
B) देश की मूलभूत संस्कृति से परिचित कराना।
C) छात्रों में एकता का भाव विकसित करना।
D) छात्रों को देश के विभिन्न भाषायी लोगों से सम्पर्क कराना
उत्तर – D)

प्रश्न 2 : कविता शिक्षण का मुख्य क्या उद्देश्य है
A) छात्रों को भावानुसार वाचन की दक्षता प्रदान करना
B) छात्रों को भाषा के शास्त्रीय पक्ष का ज्ञान देना
C) छात्र की उदात्त भावनाओं का संवर्धन एवं रसानुभूति।
D) छात्र की आंगिक चेष्टाओं को परिष्कृत।
उत्तर : A)

प्रश्न 3: कक्षा शिक्षण में प्रश्नोत्तर प्रणाली का सबसे बड़ा लाभ क्या है
A) छात्रों की प्रतिभागिता समान रहती है
B) समय का सदुपयोग होता है।
C) छात्र अध्ययन के प्रति सचेत व अभिमुख रहते हैं।
D) शिक्षक श्रम करने से बचता है।
उत्तर : C)

प्रश्न 4: निम्नांकित में से सही विकल्प का चयन करें
A) भाषा पाठ्यक्रम में प्रारम्भ से ही व्याकरण की शिक्षा का प्रावधान होना चाहिए।
B) व्याकरण भाषा का एक नियन्त्रक होता है।
C) व्याकरण का क्रमबद्ध ज्ञान जरूरी है।
D) भाषा के व्याकरण का मूल तत्त्व है-शब्द ज्ञान से है
उत्तर : A)

प्रश्न 5: भाषा का प्रारम्भिक बोध किससे होता है
A) चिन्तन एवं मनन से
B) अध्ययन एवं अध्यापन से
C) पठन एवं पाठन से
D) अनुकरण एवं श्रवण से
उत्तर : D)

प्रश्न 6: छात्रों के वर्तनीजन्य दोषों के निराकरण के लिए उपयोगी उपागम है
A) छात्र शिक्षक संवाद करना
B) बुद्धि परीक्षण करना
C) गृहकार्य का निरीक्षण करना
D) उपचारात्मक शिक्षण देना
उत्तर : D)

प्रश्न 7: इ, ई, उ, ऊ किस प्रकार के स्वर कहे जाते है
A) अर्द्धविवृत
B) संवृत
C) अर्द्धसंवृत
D) विवृत
उत्तर : B)

प्रश्न 8: मैथिल कोकिल कहा जाता है?
A) सेनापति
B) पद्माकर
C) विद्यापति
D) घनानन्द
उत्तर : C)

प्रश्न 9: साहित्यिक अपभ्रंश का पुराना हिन्दी नाम दिया?
A) रामचन्द्र शुक्ल
B) राहुल सांकृत्यायन
C) महावीर प्रसाद द्विवेदी
D) हजारी प्रसाद द्विवेदी
उत्तर : A)

प्रश्न 10: निम्नलिखित में से किस शब्द में नञ् तत्पुरुष समास है ?
A) अनुकूल
B) गंगाजल
C) अनभिज्ञ
D) धर्मार्थ
उत्तर : C)

प्रश्न 11: निम्नलिखित में यण सन्धि का उदाहरण है
A) मतैक्य
B) शयन
C) अत्युत्तम
D) तन्मय
उत्तर : C)

प्रश्न 12: निराला कृत ‘राम की शक्ति पूजा’ का आधार ग्रन्थ कौन सा है?
A) कम्बन रामायण
B) रामचरितमानस
C) रामचन्द्रिका
D) कृत्तिवास रामायण
उत्तर : D)

प्रश्न 13: अष्टछाप के कवियों में प्रथम नियुक्त कीर्तनकार कवि थे?
A) नन्ददास
B) सूरदास
C) कृष्णादास
D) केशवदास
उत्तर : B)

प्रश्न 14: चौपाई छन्द पर आधारित ‘रमैनी’ के रचनाकार कौन हैं
A) बिहारी
B) कबीर
C) रहीम
D) भूषण
उत्तर : B)

प्रश्न 15: ‘कपोत’ शब्द का पर्यायवाची है
A) परभृत
B) पिक
C) चंचरीक
D) पारावत
उत्तर : D)

प्रश्न 16: ‘चन्द्र सकलंक, मुख निष्कलंक’,
दोनों में समता कैसी’ पद में अलंकार है ?
A) यमक
B) व्यतिरेक
C) असंगति
D) कोई नहीं
उत्तर : B)

प्रश्न 17: ‘बोल्गा से गंगा’ के लेखक का नाम है
A) रांगेय राघव
B) धर्मवीर भारती
C) राहुल सांकृत्यायन
D) हरिवंश राय बच्चन
उत्तर : C)

प्रश्न 18: ‘द्विवेदी युग’ का नामकरण किस कवि के नाम से हुआ ?
A) महावीर प्रसाद द्विवेदी
B) शान्ति प्रिय द्विवेदी
C) राम अवध द्विवेदी
D) हजारी प्रसाद द्विवेदी
उत्तर : A)

प्रश्न 19: ‘अधिकार सुख कितना मादक और सारहीन है’ इस को कथन जयशंकर प्रसाद के किस नाटक से लिया गया है बताएं ?
A) चन्द्रगुप्त
B) स्कन्दगुप्त
C) अजातशत्रु
D) ध्रुवस्वामिनी
उत्तर : B)

निर्देश : निम्न पद्यांश को पढ़कर पूछे गए पांच प्रश्नों के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन करें।
“तुम मांसहीन, तुम रक्तहीन
हे अस्थिशेष! तुम अस्थिहीन
तुम शुद्ध बुद्ध आत्मा केवल,
हे चिर पुराण तुम। हे चिर नवीन!
तुम पूर्ण इकाई जीवन की
जिसमें असारभव शून्य लीन,
आधार अमर होगी जिस पर
भावी की संस्कृति लीन ।”

प्रश्न 20: उपरोक्त काव्यांश में छन्द है?
A) मनहर
B) मुक्त छन्द
C) गीतिका
D) तोमर
उत्तर : B)

प्रश्न 21: ‘तुम मांसहीन, तुम रक्तहीन’ से कौन सा भाव व्यक्त होता है?
A) जड़ता
B) दुर्बलता
C) विचारहीनता
D) पारमहंस्य स्थिति
उत्तर : D)

प्रश्न 22: ‘हे चिर पुराण! हे चिर नवीन!’ में अलंकार है?
A) विरोधाभास
B) विपर्यय
C) विभावना
D) असंगति
उत्तर : A)

प्रश्न 23: प्रस्तुत काव्य पंक्तियों के रचनाकार हैं
A) धर्मवीर भारती
B) सुमित्रानन्दन पन्त
C) मैथिलीशरण गुप्त
D) गजानन माधव मुक्तिबोध

उत्तर : B)

प्रश्न 24: ‘पूर्ण इकाई जीवन की’ पद का भावार्थ है ?
A) सम्पूर्ण व्यक्तित्व का विकास
B) जीवन के अन्तिम लक्ष्य की प्राप्ति
C) सामाजिक अनुभव प्राप्त करना
D) मानव जीवन की परिपक्वता
उत्तर : D)

निर्देश : निम्न गद्यांश को पढ़कर पूछे गए पाँच प्रश्नों के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए।

“शिक्षा चाहती है कि उसको अपने समाज से जोड़ा जाए, लोगों से जोड़ा जाए और हर विद्यार्थी को ऐसी लोकोन्मुख दृष्टि दी जाए कि सर्वोदय को अपना धर्म-कर्म मानने लगे।”
“यद्यपि यह समझना आवश्यक है कि शिक्षा को शिक्षित करने का सबसे बड़ा स्थान समाज ही है। समाज की करुण कथाएँ एवं समाज में गरीब से गरीब का अर्थशास्त्र शिक्षा को शिक्षित करने में समर्थ है। शिक्षा के लिए तथ्य और तत्त्व दोनों ढूँढ़ने का सही स्थान समाज ही है।”
“समाज में रहने वाले विलक्षण प्रतिभाशाली लोगों से पृथक् कोई भी शैक्षिक व्यवस्था अपने को सम्पन्न नहीं बना सकती। समाज के विश्लेषण से ही सच्ची शिक्षा सम्पन्न हो सकती है। इस तरह से शिक्षा अपने को सींचने का दाना-पानी समाज से ले सकती है और समाज को कुछ वापस कर सकती है। ऐसी लोकोपयोगी शिक्षा समाज को और फिर राष्ट्र को ओजस्वी और तेजस्वी बनाने में सफल होगी।”

प्रश्न 26: ‘गरीब परिवार का अर्थशास्त्र’ शिक्षा को शिक्षित करने में किस प्रकार से समर्थ हो सकता है ?
A) शैक्षिक नियोजन में सर्वोदय के बिन्दुओं को समाहित करके।
B) शिक्षा व्यवस्था में अधिक धन आवण्टित करके ।
C) गरीब परिवारों को आर्थिक मदद प्रदान करके।
D) गरीबी के मूल कारणों का विश्लेषण करके ।
उत्तर : A)

प्रश्न 27: राष्ट्र को तेजस्वी किससे बनाया जा सकता है?
A) शिक्षा का व्यापक प्रचार और प्रसार करके ।
B) विभिन्न सामाजिक स्रोतों से यथेष्ठ संसाधन जुटा कर
C) महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा लेकर
D) समाज में व्याप्त बुराइयों का निराकरण करके
उत्तर : A)

प्रश्न 28: शिक्षा की सर्वोच्च अभिलाषा क्या रखी गयी है?
A) छात्रों को आदर्श की ओर उन्मुख करना।
B) छात्रों को आत्मनिर्भर बनाना।
C) छात्रों को कौशल विकास की अच्छी दिशा प्रदान करना।
D) छात्र में समाजोन्मुखी दृष्टिकोण विकसित करना।
उत्तर : D)

प्रश्न 29: लोकोन्मुख दृष्टि से आशय है?
A) सामाजिक परम्पराओं का बोध।
B) समाज के बहुमुखी विकास की सोच।
C) लोकादशों से परे कार्य करने का भाव।
D) लौकिक विकास के प्रति चिन्तनपरता।
उत्तर : D)

प्रश्न 30: ‘लोकोन्मुख’ शब्द में सन्धि है ?
A) यण सन्धि
B) अयादि सन्धि
C) गुण सन्धि
D) वृद्धि सन्धि
उत्तर : C)

CTET UPTET PRACTICE SET SOLVE

CTET NEWS