क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं | Can Hernia Patient Do Kapalbhati Pranayam2

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

Can Hernia Patient Do Kapalbhati: आज आप जानेंगे क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते है? और हर्निया के मरीजों के लिए कौन से योगासन बहुत फायदेमंद होते हैं? आईये जानें क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं?

 

Can Hernia Patient Do Kapalbhati Pranayam | क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं?

अक्सर अपने शरीर को फिट और हेल्दी रखने के लिए नियमित रूप से योग और ध्यान का अभ्यास करना बहुत फायदेमंद माना जाता है। ज्यादातर जो व्यक्ति नियमित रूप से योगासनों का अभ्यास करते हैं उनके शरीर से कई प्रकार की बीमारियों से रक्षा होती है और शरीर फिट रहता है।

 

लेकिन कुछ बीमारियां और समस्याएं ऐसी भी होती हैं जिनमें योगाभ्यास और ध्यान आदि का अभ्यास करना नुकसानदायक हो भी सकता है। ऐसे में कपालभाति प्राणायाम का अभ्यास सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। कई बार शरीर में ब्लड सर्कुलेशन ठीक रखने और पेट से जुड़ी परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए लोगों के द्वारा कपालभाति का नियमित अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन कई लोगों का यह सवाल है कि क्या हर्निया की समस्या में कपालभाति का अभ्यास कर सकते हैं? आइए विस्तार से जानते हैं इसके बारे में कि क्या हर्निया में कपालभाति कर सकते हैं? (Can You Do Kapalbhati in Hernia)

 

कई बार ऐसा होता है कि हमें पता ही नहीं होता है कि अगर हमें कोई समस्या है तो ऐसे वक्त में क्या योगा करना सही रहेगा या फिर कौन सा योगा करना होगा और कौन सा नहीं. क्योंकि अधिकतर जानकारी ना होने पर हम ऐसी गलती कर जाते हैं जो हमारी परेशानी को और बढ़ा देता है कहीं ना कहीं गलत योग करने से भी दिक्क़ते आ जाती हैं.

 

तो आज आप जाननेंगे कि क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं? (Hernia Patient Do Kapalbhati in Hindi). हर्निया के रोगी को किस योगासन से अधिक नुकसान हो सकता है और क्या क्या सावधानिया बरतनी जरूरी है।

 

क्या हर्निया में कपालभाति कर सकते हैं?- Can Hernia Patient Do Kapalbhati Overview

दोस्तों कपालभाति प्राणायाम हमारे श्वसन तंत्र को ठीक रखने, मेटाबॉलिज्म में सुधार करने, शरीर का ब्लड सर्कुलेशन ठीक रखने और गैस या एसिडिटी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसका रोजाना अभ्यास हमारे फेफड़ों को हेल्दी रखने के लिए भी बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हर्निया की समस्या में कपालभाति प्राणायाम का अभ्यास आपके लिये नुकसानदायक भी हो सकता है। नियमित सही ढंग से इसका अभ्यास न करने से हर्निया के मरीजों की परेशानियां और बढ़ सकती हैं। क्योंकि कपालभाति प्राणायाम (Hernia Patient Do Kapalbhati Pranayam) के दौरान शरीर के आंतरिक अंगों का मूवमेंट तेजी से होता है, और इसलिए हर्निया के मरीजों को डॉ. की सलाह लेनी अयंत जरूरी माना जाता है क्योंकि परेशानी होने पर कपालभाति का अभ्यास न करने की सलाह दी जाती है। यदि आपकी हर्निया की सर्जरी हुई है और आप फिट महसूस करते हो तब भी डॉ. आपको कुछ महीनों तक कपालभाति का अभ्यास न करने की सलाह देतें हैं। आईये जानते हैं कि हर्निया में कौन से योग कर सकते हैं? (Yoga for Hernia Patients in Hindi).

 

इसे भी पढ़ेंपुरुषों में थायराइड कितना होना चाहिए? जानें नॉर्मल और खतरनाक थायराइड लेवल के बारे में

 

क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं? जानें सावधानियां | Can Hernia Patient Do Kapalbhati
Can Hernia Patient Do Kapalbhati

 

हर्निया में कौन से योग कर सकते हैं?- Yoga for Hernia Patients in Hindi

यदि आपको या आपके किसी रिलेटिव को हर्निया की समस्या है तो ऐसे में, हर्निया की समस्या में कुछ योगासनों का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है। हर्निया की समस्या ज्यादातर बच्चों में 12 साल की उम्र से भी पहले और वयस्कों में 42 साल की उम्र के बाद देखी जाती है। और ज्यादातर लोगों में तो यह समस्या गंभीर रूप में पहुंच जाती है और अंत में सर्जरी के माध्यम से इलाज किया जाता है। अगर शुरूआती स्टेज में ही इस बीमारी के लक्षणों को पहचानकर अपने खानपान, जीवनशैली में सुधार और नियमित योगाभ्यास करने से आप इस बीमारी से छुटकारा भी पा सकते हैं। हर्निया में कौन से योग कर सकते हैं इसके लिये डॉ. की भी सलाह लें।

 

आईये जानते हैं हर्निया के मरीज किन योगासनों का अभ्यास कर सकते हैं-

  • मंडूकासन
  • शशकासन
  • वक्रासन
  • ताड़ासन
  • तिर्यक ताड़ासन
  • पश्चिमोत्तासन
  • भूनमन आसन
  • मर्कटासन
  • गौमुखासन

 

हर्निया की समस्या कैसे होती है?

अक्सर देखा गया है कि हर्निया की समस्या कई कारणों से होती है। इस बीमारी में मरीजों को खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए और बहुत भारी चीजों को उठाने से बचना भी चाहिए। अगर हर्निया की बीमारी (How to Know About Hernia Patient) गंभीर रूप धारण कर लेती है, तो डॉक्टर सर्जरी के माध्यम से इसका इलाज करते हैं। हर्निया के लक्षण दिखने पर डॉक्टर की सलाह लेकर इलाज जरूर लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें – सर्दियों में इन 5 तरीकों से लगाएं बादाम का तेल, मिलेगी निखरी-बेदाग त्वचा

 

निष्कर्ष : अपने जाना कि क्या हर्निया के मरीज कपालभाति कर सकते हैं? (Can Hernia Patient Do Kapalbhati) और क्या क्या सावधानियां बरतनी अत्यंत जरूरी होती हैं.

स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी के लिये आप हमारे टेलीग्राम से जुड़े या यहां क्लिक करें।