RTGS Full Form in Hindi | RTGS क्या है और कैसे काम करता है ?

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

RTGS का Full Form “Real Time Gross Settlement” होता है। आज बैंक में लाइन लगाने की आवश्कता नहीं है घर बैठे सारे काम कर सकते हैं।

 

RTGS Full Form in Hindi

RTGS Full Form in Hindi: आज इंटरनेट की दुनिया में बताने की आवश्यकता नहीं है, आजकल बैंकिंग से संबंधित सभी चीजें घर बैठे ही हो जाती है वे दिन कब चले गए जब लोग बैंक में लंबी लाइन लगाकर चालान या Money Transfer किया करते थे। लेकिन सारी चीज़ें इतनी बदल गयी हैं कि चाहे जॉब हो या बैंकिंग या कोई भी काम ज्यादातर ऑनलाइन जोड़ दिया गया है और जब घर से बैठकर सारी चीजें हो सकती है तो अपना कीमती वक्त इस तरह बैंक के चक्कर काटने में क्यों बर्बाद करना है। आजकल तो घर से किसी साइबर या इंटरनेट वाले से भी कह कर पैसे का लेनदेन कर सकते हैं।

आज कई Modern Banking Solutions भी मौजूद है जैसे कि नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर पेमेंट सर्विस Real Time Gross Settlement (RTGS) आदि जो कि पेमेंट प्रोसेस को बहुत ही आसान बनाने में मदद करता है और आज हम ऐसे ही एक सर्विस के बारे में बताएंगे, जिनकी मदद से आप बहुत ही आसानी से और जल्दी ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। वैसे तो सभी ने RTGS का नाम कभी ना कभी जरुर सुना होगा लेकिन यदि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी नही है या थोड़ा बहुत है भी तो हम आपको RTGS के बारे में सभी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से प्रदान करने वाले है। यदि आप भी आरटीजीएस (RTGS Full Form in Hindi) के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इसे अंत तक जरूर पढ़ें।

RTGS Kya Hai ?

RTGS Kya Hai : आज के समय में Banking में सबसे ज्यादा इसका उपयोग किया जाता है। सबसे पहले आपको बता दे कि RTGS मतलब ‘Real Time Gross Settlement’ होता है। RTGS एक जगह से दूसरी जगह पर पेसे ट्रान्सफर करने की सुविधा प्रदान करता है। money को real time और individual basis में एक जगह से दूसरी जगह पर ट्रान्सफर किया जाता है। इससे एक bank account से दुसरे bank account पर पेसे भेजने का सरल माध्यम है।

RTGS का संचालन RBI के द्वारा होता है। इसके अन्तर्गत किये गए सभी settlement of funds का रिकॉर्ड सुरक्षित रखा जाता है। आज के समय में RTGS पैसे को ट्रान्सफर करने का बहुत ही तेज एवं सरल माध्यम है। RTGS के माध्यम से एक समय में 2,00,000 रूपए तक Transfer किया जा सकता है।

 

RTGS कैसे करे?

कई लोगो के मन में सवाल होता है कि RTGS कैसे करे?। आज के समय में इसे दो तरह से किया जाता है, पहला ऑनलाइन दूसरा ऑफलाइन तरीके से किया जाता है। यह दोनों तरीके ही काफी सरल है हम आपको RTGS के माध्यम से पैसे ट्रान्सफर करने के तरीके को बताने जा रहे है। पहले हम ऑनलाइन तरीका बताएंगे फिर ऑफलाइन।

 

Online RTGS करने का तरीका –

Online RTGS करना काफी आसन है, ऑनलाइन उपयोग आज के समय में सबसे ज्यादा किया जाता है और Online Method में आपको बैंक जाने की आवश्यकता भी नही होती है। घर बैठे अपने मोबाइल फोन से या लैपटॉप से Internet Banking का उपयोग करके RTGS के लिये ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

आपको सबसे पहले अपने Internet Banking में जाकर उस persion को add करना है, जिसको आप पेसे Transfer करना चाहते है और उसे Payee अथवा Beneficiary Customer के रूप में अपने Account से जोड़ना होता है।

इसके बाद उस व्यक्ति से सम्बन्धित जरुरी जानकारी को add करना है। इसमे आपको उसके नाम और बैंक अकाउंट नंबर को add करना है।

पूरी जानकारी भरने के बाद आपकी Bank Beneficiary की Details को Check करता है। इस प्रोसेस में बैंक 12 से 24 घंटें का समय ले सकता है हालांकि जल्द है पूरा हो जाता है।

अब Checking Process पूर्ण होने के बाद Bank द्वारा Beneficiary Customer को Activate कर दिया जाता है और उसके बाद Beneficiary Customer को आपके द्वारा निर्धारित राशी का RTGS के द्वारा भुगतान के लिये एक्टिवेट कर दिया जाता है।

नोट – Online RTGS करने के लिए इन्टरनेट की आवश्यता होगी इसके साथ ही RTGS ट्रान्सफर करने के लिए Person की Bank Account detials भी आवश्यक है।

RTGS Full Form in Hindi
RTGS Full Form in Hindi

Brand Ambassador 2022 List in Hindi | ब्रांड अम्बेसडर नई सूची 2022 हिंदी में देखें

Offline RTGS करने का तरीका –

आप में से कुछ लोग Online सुविधा का लाभ नही लेना चाहते है, तो आप RTGS को ऑफलाइन भी कर सकते है। इसके लिए अपनी Bank Branch में जाना होता है। बैंक द्वारा RTGS करने के हेतु एक स्लिप प्रदान की जायेगी इस स्लिप में आपको Cheque Deposit या NEFT करते समय जिस तरह से जानकारी भरनी होती है, उसी प्रकार से जानकारी यहां भी देनी होगी। कुछ समय बाद इस स्लिप को बैंक में Deposit करना है। जिसमे Sending Bank उस Instruction Slip में दी गयी सभी जानकरी की जांच कर उसे Central Processing System में Feed कर देता है और ICP System पर स्लिप Feed करने के बाद सभी जानकारी RBI को भेज दी जाती है। RBI Transaction को Process करके Complete करने के बाद Sending Bank के Account से Money को Debit कर उसे RTGS प्राप्त करने वाले व्यक्ति के Account में भेज दिया जाता है।

 

Money जमा होने के बाद बैंक द्वारा एक Unique Transaction Number (UTN) Generate होता है। इस नंबर की जानकारी Sender Bank को दिया जाता है और बैंक आपको प्रोवाइड करता है। RTGS के द्वारा पेमेंट पूर्ण की जानकारी इस नंबर से ज्ञात हो जाता है।

 

RTGS की क्या विशेषता है?
  • RTGS एक सरल और Secure Money Transfer करने का तरीका है।
  • यह RBI से अधीन है इसलिये इसमें धोखाधड़ी की आशंका नही रहती है।
  • इसमें पेमेंट Immediate clearing हो जाती है।
  • RTGS द्वारा ट्रान्सफर किये गये amount को one-on-one basis में credit किया जाता है।
  • घर बैठे धन निकासी करके पैसे भी कमा सकते हैं।
  • इससे बैंक में भीड़ भी कम रहती है और आसानी से काम भी हो जाता है।
  • RTGS प्राप्त करने वाले को किसी प्रकार की कागज उपकरणों के लिए बैंक जाने की आवश्यकता नहीं होती।

 

RTGS करने के लिए कितना पैसा लगता है?

आपकी जानकारी के लिये बता दे कि RTGS करने के लिए आपको बैंक में फ़ीस देना होती है और RTGS की राशी प्राप्त करने वाले को किसी भी प्रकार का शुल्क नही देना होता है। लेकिन जो व्यक्ति RTGS राशी को भेजता है, उसको बैंक को कुछ चार्ज भी देना होता है। जैसे 2 लाख से 5 लाख रूपए के लिए बैंक आपसे 30 रूपए प्रति transaction का चार्ज लेता है। वही यदि 5 लाख से अधिक है, तो इसके लिए 55 रूपए प्रति transaction के अनुसार बैंक पैसे चार्ज करता है।

 

RBI के अनुसार RTGS करने का समय

रबीन्द्रनाथ द्वारा RBI करने का समय अलग होता है। यहा पर ग्राहक लेनदेन के लिए RTGS सेवा विंडो सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे खुली होती है। वही कुछ प्राइवेट बेंक भी ज्यादा समय तक RTGS करने का समय प्रदान करती है।

 

RTGS का समय क्या है?

बैंक चालू होने की स्थति में सोमवार से शुक्रवार तक 9.00 a.m. से 4.30 p.m तक किया जाता है और शनिवार को 9.00 a.m. से 2.00 p.m तक किया जाता है।

 

RTGS Transactions के Fees और Charges क्या है

इन प्रक्रिया में जिस bank को पैसे भेजे जाते हैं उसे कोई भी charge नहीं पड़ता है RTGS transaction के लिए. लेकिन sender (जो पैसे भेजता है), इन्हें bank कुछ charges लगाता है जो पैसों के Transfer हैं उनपर चार्ज इस प्रकार है।

2 लाख से Rs.5 लाख तक Rs.30 per transaction

5 लाख से ऊपर Rs.55 per transaction

 

RTGS के फायदे क्या है

RTGS करने के कई फायदे होते है, जैसे –

  • बड़ी रकम को ट्रान्सफर करने का आसन माध्यम होता है।
  • इसमे Money Transfer करने का चार्ज बहुत कम आता है।
  • Money Transfer होने में ज्यादा समय नही लगता है।
  • RTGS ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से किया जा सकता है।
  • RTGS सेवाएं अब 24×7 उपलब्ध है, जिससे की पैसे ट्रांसफर (Amount Transfer) होने में कम से कम समय लगता है।
  • इसमे किसी प्रकार से चोरी होने की या धोखाधड़ी की आशंका नही के बराबर रहती है।

 

RTGS और NEFT में मुख्य क्या अंतर है

Criteria NEFT RTGS : Settlements Transactions को batches में settle किया जाता है जबकि Transactions को individually settle किया जाता है।

RTGS Timings यहाँ पर Settlement को hourly basis में bank working hours के दौरान किया जाता है लेकिन Real Time पर ही सारे process को कम्पलीट कर दिया जाता है।

Transaction Amount की कोई minimum limit नहीं है लेकिन एक maximum limit जरुर है लेकिन यहाँ पर Minimum limit है Rs.2 lakh वहीँ कोई भी upper ceiling नहीं रखी गयी है।

मुख्य Value lower और medium range के transactions के लिए किया जाता है लेकिन इन्हें higher value के transactions के लिए भी इस्तमाल किया जाता है।

 

FAQ

प्रश्न : RTGS और NEFT में क्या अंतर है?

उत्तर :- NEFT या National Electronic Fund Transfer में Transactions को Batches में Settle किया जाता है, वहीँ RTGS Transactions को Individually Settle किया जाता है।

 

प्रश्न : RTGS transactions की minimum और maximum limit कितनी है ?

उत्तर :- सारे RTGS Transactions को मुख्यतः बड़े value वाले transactions के लिए इस्तमाल किया जाता है जबकि RTGS transactions का minimum amount है Rs 2 लाख है एवं इसका कोई maximum limit नहीं है.

 

प्रश्न : RTGS ट्रांसफर में कितना समय लगता है?

उत्तर :- RTGS द्वारा बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने के 30 मिनट के भीतर पैसे लाभार्थी के खाते मेंपैसे क्रेडिट हो जाते है।

 

प्रश्न : क्या भारत में सभी Bank में RTGS की सुविधा उपलब्ध है?

उत्तर :- नहीं, भारत के कुछ ही Bank इस प्रकार RTGS की फेसिलिटीज उपलब्ध है जो RTGS- Enabled किये है।

 

प्रश्न : कैसे पता करे की हमारा Bank RTGS Enabled है या नहीं?

उत्तर :- इसके लिए RBI की वेबसाइट पर विजिट कर सकते है जहाँ आपको RTGS Enabled Bank की लिस्ट मिल जाएगी।

 

दोस्तों हमने इस पोस्ट के माध्यम से RTGS Full Form in Hindi, RTGS क्या है? RTGS करने के तरीके, RTGS के फायदे आदि सभी के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की है। यदि आपको RTGS से सम्बन्धित किसी प्रकार की जानकारी या सहायता की आवश्यकता हो, तो आप हमे कमेंट जरुर करे आपके प्रश्नों के जवाब देने के लिए हम तत्पर है। इसके साथ ही बैंक ग्राहक RTGS सेवाओं में किसी भी परेशानी का सामना कर रहे है तो वह अपनी बैंक शाखा में अवश्य संपर्क करें।